चीन की वुहान से शुरू हुआ कोरोना वायरस का संक्रमण दुनिया के कई देशों में फैल चुका है कोरोनावायरस का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है दुनिया भर की डॉक्टर कोरोना वायरस का इलाज खोजने में लगे हैं इस बीच थाईलैंड के डॉक्टरों ने दावा किया है कि उन्होंने कुछ दवाओं को मिलाकर एक नई दवा बनाई है जो काफी असरदार है डॉक्टरों का दावा है कि यह नई दवा कोरोना वायरस से पीड़ित मरीजों को 48 घंटे में ठीक कर देगी थाईलैंड के डॉक्टर ने कहा अब इसे और कारगर बनाने की दिशा में काम किया जा रहा है उन्होंने कहा हम लैब में परीक्षण कर रहे हैं उन्होंने कहा कि कोरोनावायरस के इलाज के लिए हमने एंटीफ्लू ट्रक और शिविर को एचआईवी के इलाज के लिए उपयोग में लाई जाने वाली लोपिनावीर और रिटोनावीर से मिलाकर एक नई दवा तैयार की है।

 थाईलैंड के डॉक्टर का कहना है कि इस कोरोना वायरस से संक्रमित 71 साल के एक बुजुर्ग महिलाओं को नई दवा देकर ठीक कर दिया गया उन्होंने दावा किया कि पीड़ित महिला दवा देने के 12 घंटे के अंदर ही बिस्तर से उठ कर बैठ गई जबकि उससे पहले वह हिल भी नहीं पा रही थी 48 घंटे में महिला 90 फ़ीसदी ठीक हो चुकी है और कुछ दिनों बाद उसे छुट्टी दे दी जाएगी डॉक्टर ने बताया कि लैब में हमने दवा की जांच की तो इसके सकारात्मक नतीजे मिले इस दवा ने 12 घंटे में ही मरीज को राहत पहुंचा दी 48 घंटे में मरीज 90 फ़ीसदी तक ठीक हो गया डॉक्टर ने कहा हमने इस दवा को एंटीफ्लू ट्रकों में मिलाकर तैयार किया है कोरोनावायरस में बेहद कारगर साबित हुई है अब आपको यहां इस वायरस के बारे में भी बताते क्या है ये वायरस । कोरोना वायरस  के संक्रमण से जुकाम से लेकर सांस लेने में तकलीफ जैसी समस्या हो सकती है। इस वायरस का संक्रमण दिसंबर में चीन के वुहान में शुरू हुआ था डब्ल्यूएचओ के मुताबिक बुखार खांसी सांस लेने में सांस लेने में तकलीफ इसके लक्षण है अब तक इस वायरस को फैलने से रोकने वाला कोई टीका नहीं बना है

             आइए आपको बताते हैं कि इस बीमारी के लक्षण क्या है इसके संक्रमण के बाद बुखार जुखाम सांस लेने में तकलीफ नाक बहना गले में खराश हो सकती है यह वायरस एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलता है इसलिए इसको लेकर बहुत सावधानी बरती जा रही है दुनिया भर के डॉक्टर इसका इलाज ढूंढने में लगे हुए हैं यह वायरस दिसंबर में चीन में पकड़ में आया था इसके बाद यह बाकी देशों में भी फैल गया चलिए अब आपको यह बताते  हैं इस से बचाव के क्या उपाय है स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना वायरस से बचने के लिए दिशानिर्देश जारी की है इसके मुताबिक हाथों को साबुन से धोना चाहिए अल्कोहल आधारित हैंड्रब का इस्तेमाल भी किया जा सकता है खासते छींकते समय नाक और मुंह पर रुमाल टिशु पेपर जरूर रखें जिन व्यक्तियों में कोरोना वायरस के लक्षण हो उनसे दूरी बनाकर रखें और मास के सेवन से बचे। और जंगली जानवरों के संपर्क में आने से बचे।

Post a Comment

Previous Post Next Post